Wednesday, February 6, 2013

गीत का उनवान देखिये

भक्तों को बनाते हैं वो नादान देखिये
अब छोड़िये भगवान को इन्सान देखिये

सुन्दर से लिखा द्वार पे सेवा ही धरम है
मिलते ही उनके दिल का शैतान देखिये

कुदरत से मिली नेमतों की फिक्र है किसे
भगवान के वरदान का अपमान देखिये

चिड़ियाँ चहक रहीं थीं और खो गया था मैं
कलरव में छिपे गीत का उनवान देखिये

खुद से भी लड़ रहे हैं दुनिया से अनवरत
होते नहीं सुमन कभी हलकान देखिये

10 comments:

प्रवीण पाण्डेय said...

देखि देखि बहुतै दुख पावा..

Anupama Tripathi said...

हर मन की कथा ....
हृदय की वेदना ...
बहुत सुंदर लिखा है ...

गुड्डोदादी said...

कुदरत से मिली नेमत की फिक्र है किसे
भगवान के वरदान का अपमान देखिये
महंत(आसा राम को लात मारते देखिये

शालिनी कौशिक said...

बहुत सुन्दर भावनात्मक अभिव्यक्ति राजनीतिक सोच :भुनाती दामिनी की मौत आप भी जाने अफ़रोज़ ,कसाब-कॉंग्रेस के गले की फांस

काजल कुमार Kajal Kumar said...

उम्‍दा ग़ज़ल है जी

expression said...

वाह...
बढ़िया ग़ज़ल...
सार्थक भाव.

अनु

Madan Mohan Saxena said...

बहुत सुन्दर भावनात्मक अभिव्यक्ति.
इनायत जब खुदा की हो तो बंजर भी चमन होता
खुशियाँ रहती दामन में और जीवन में अमन होता

मर्जी बिन खुदा यारों तो जर्रा भी नहीं हिलता
अगर बो रूठ जाए तो मुयस्सर न कफ़न होता

Anonymous said...

Thanκs fоr a mаrνelouѕ pοsting!
I seгiouѕly еnјoyed reading it,
уou mаy bе a gгeat authοг.
I wіll ensure that I bοoκmaгk your blog
and may come back іn the foreseeable future.
I want to encourage thаt you contіnue
your greаt wгitіng, havе a nice ԁаy!
Feel free to visit my webpage : diamond titanium ring

Anonymous said...

Awesome issues here. І'm very satisfied to peer your article. Thanks a lot and I am having a look ahead to contact you. Will you please drop me a mail?

Here is my website - titanium engagement ring

Dr.Ashutosh Mishra "Ashu" said...

अब कुछ समझ में नहीं आता ..बहुत दुखद स्थिति है

हाल की कुछ रचनाओं को नीचे बॉक्स के लिंक को क्लिक कर पढ़ सकते हैं -
विश्व की महान कलाकृतियाँ- पुन: पधारें। नमस्कार!!!