Thursday, August 27, 2015

बना स्वजन व्यापारी है

अपना मतलब अपनी खुशियाँ पाने की तैयारी है
वजन बढ़ा मतलब का इतना जो रिश्तों पर भारी है
मातु पिता संग इक आंगन में भाई बहन का प्यार मिला
इक दूजे का सुख दुख अपना प्यारा सा संसार मिला
मतलब के कारण ही यारों बना स्वजन व्यापारी है
वजन बढ़ा मतलब का---------
भीतर से इन्सान वो जैसा क्या बाहर से दिखता है
हालत ये कि सन्तानों संग जिस्म यहाँ पर बिकता है
अपना मतलब पूरा कर लें इसी की मारामारी है
वजन बढ़ा मतलब का---------
जीवन मूल्य बचाना होगा मुल्क बचाने की खातिर
पथ के कांटे चुनने होंगे सुमन सजाने की खातिर
उस मतलब से क्या मतलब जो घर घर की बीमारी है
वजन बढ़ा मतलब का----------

No comments:

हाल की कुछ रचनाओं को नीचे बॉक्स के लिंक को क्लिक कर पढ़ सकते हैं -
विश्व की महान कलाकृतियाँ- पुन: पधारें। नमस्कार!!!